Breaking News

महात्मा गांधी के विचारों में सार्वभौमिकता – पूर्व न्यायमूर्ति सत्यरंजन धर्माधिकारी,भव्य अहिंसा साधना शांति यात्रा संपन्न

गांधी रिसर्च फाउंडेशन द्वारा महात्मा गांधी की 154वीं जयंती, एवम लाल बहादुर शास्त्री की 119वीं जयंती और चरखा जयंती के अवसर पर भव्य अहिंसा सद्भावना शांति यात्रा का आयोजन किया गया. इस अवसर पर गुजरात विश्वविद्यालय के पूर्व कुलपति डॉ. सुदर्शन अयंगर, संघपति दलीचंद जैन, विधायक लता सोनवणे, श्रीमती. स्वाति धर्माधिकारी, गांधी रिसर्च फाउंडेशन के निदेशक अशोक जैन, जैन इरिगेशन के उपाध्यक्ष अनिल जैन, जलगांव की मेयर जयश्री महाजन, श्रीमती. ज्योति जैन,मनपा आयुक्त डॉ. विद्या गायकवाड़, पुलिस अधीक्षक डॉ. प्रवीण मुंडे, सहायक पुलिस अधीक्षक कुमार चिंता, अपर कलेक्टर प्रवीण महाजन, रेजिडेंट डिप्टी कलेक्टर राहुल पाटिल, पंजाब फरीदकोट से बजीत सिंह और जैन समानीजी सुधाजी, सुगनिधि, सुगमनिधि जी, डॉ. सुयश निधिजी, हाफिज अब्दुल रहीम नासिर पटेल, गेव दरबारी, विश्वनाथ जोशी उपस्थित थे।यह अहिंसा सद्भावना शांति यात्रा लाल बहादुर शास्त्री टावर से शुरू हुई। इस अवसर पर गणमान्य व्यक्तियों ने लाल बहादुर शास्त्री की प्रतिमा पर माल्यार्पण किया।

अहिंसा सद्भावना शांति यात्रा को पूर्व न्यायमूर्ति सत्यरंजन धर्माधिकारी ने झंडी दिखाकर रवाना किया। यात्रा में उपरोक्त गणमान्य व्यक्तियों के साथ कुलपति डॉ. एल वी माहेश्वरी, डॉ. सुभाष चौधरी, जैन सिंचाई के संयुक्त प्रबंध निदेशक अतुल जैन, जैन परिवार के सभी सदस्य, नगर प्रशासनिक अधिकारी, नगर पार्षद, जनप्रतिनिधि, शहर के गणमान्य व्यक्ति, जैन इरिगेशन के सहयोगी, शहर के अनुभूति स्कूल, ए.टी. ज़ांबारे, सेंट टेरेसा, विवेकानंद प्रतिष्ठान, आरआर विद्यालय, लुनकाड कन्या विद्यालय, सहित विभिन्न विद्यालयों के विद्यार्थी, शिक्षक बड़ी संख्या में उपस्थित थे। यात्रा लाल बहादुर शास्त्री टावर से शुरू होकर सरदार वल्लभभाई पटेल टावर, पंडित जवाहरलाल नेहरू चौक, छत्रपति शिवाजी महाराज चौक, वीर सावरकर चौक से होते हुए महात्मा गांधी पार्क पहुंची. इस यात्रा में गांधीजी के जीवन के बदलते परिधानों के माध्यम से ‘मोहन से महात्मा’ तक की यात्रा को दर्शाने वाले सुंदर चित्ररथ के साथ-साथ स्वतंत्रता के अमृत जयंती वर्ष के अवसर पर प्रतीकात्मक तिरंगा यात्रा भी दर्शनीय रही। शांति यात्रा के स्वागत के लिए जगह-जगह खूबसूरत रंगोली सजाई गई थी

leave a reply